Third party image reference

बात उन दिनों की है जब थॉमस एडिसन फोनोग्राम बनाने के काम में व्यस्त थे। इसी बीच इस परियोजना से संबंधित एक मशीन में कुछ खराबी आ गई। उन्होंने इस खराबी को दूर करने का काम अपने एक सहायक के सुपुर्द कर दिया।

दो साल तक उस समस्या पर काम करने के बाद वह सहायक एडिसन के पास आया और बोला कि उसने हजारों डॉलर और अपने जीवन के दो महत्वपूर्ण साल इस काम में खपा दिए और निकला कुछ नहीं। अगर कोई हल होता तो वह अब तक निकाल लेता। यह कहकर उसने अपनी इस्तीफा उन्हें सौंप दिया।

एडिसन ने एक क्षण भी सोचे बगैर इस्तीफे का कागज फाड़ दिया। क्षणभर रुककर, उसे समझाते हुए एडिसन बोले कि उनका विश्वास है कि हर समस्या, जो ईश्वर ने हमें दी है, उसका हल उसके पास है। हम भले ही उसे न निकाल सकें, मगर किसी न किसी दिन, कोई न कोई उसे जरूर निकालेगा। वापस जाओ और कुछ अर्से तक और मेहनत करो।

The content does not represent the perspective of UC