Third party image reference

भारत में खिचड़ी का चलन बहुत पुराना है। मकर संक्रांति के पर्व पर तो खिचड़ी खाने की आदि परंपरा रही है। यहां हम आपको खिचड़ी के बारे में चार ऐसे तथ्य बता रहे हैं जो शायद आप आज से पहले नहीं जानते होंगे।

1. माना जाता है कि भारत में खिचड़ी पिछले करीब 2500 साल से खाई जाती रही है।

2. खिचड़ी शब्द की उत्पत्ति संस्कृत के ‘खिच्चा’ शब्द से हुई है।

3. इसे मुख्यत: चार तरीकों से बनाया जाता है। ये हैं, खिचड़ी, भेदड़ी, ताहरी और पुलाव। खिचड़ी मूलत: उड़द की दाल और चावलों को मिलाकर बनाई जाती है। भेदड़ी में मूंग की दाल और चावल होते हैं। ताहरी में दाल व चावल के अतिरिक्त आलू व सोयाबीन भी डाले जाते हैं जबकि पुलाव में दाल, चावल, सोयाबीन व मौसम में मिलने वाली सब्जियां डाली जाती हैं।

4. चौदहवीं सदी में मोरक्को यात्री इब्नबतूता, 15वीं सदी में रूसी यात्री अफानसी निकतीन व 16वीं सदी में अबुल फजल ने अपने दस्तावेजों में खिचड़ी का जिक्र किया है।

The content does not represent the perspective of UC