अटल बिहारी वाजपेई की मृत्यु आज 5:05 मिनट पर हुई और इस पर मोदी ने क्या कहा

Third party image reference
लेकिन वो हमें कहकर गए हैं-
“मौत की उमर क्या है? दो पल भी नहीं,
ज़िन्दगी सिलसिला, आज कल की नहीं
मैं जी भर जिया, मैं मन से मरूं,
लौटकर आऊँगा, कूच से क्यों डरूं?”
— Narendra Modi (@narendramodi) August 16, 2018
Third party image reference

अटल जी आज हमारे बीच में नहीं रहे, लेकिन उनकी प्रेरणा, उनका मार्गदर्शन, हर भारतीय को, हर भाजपा कार्यकर्ता को हमेशा मिलता रहेगा। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति प्रदान करे और उनके हर स्नेही को ये दुःख सहन करने की शक्ति दे। ओम शांति !
— Narendra Modi (@narendramodi) August 16, 2018
मैं नि:शब्द हूं, शून्य में हूं, लेकिन भावनाओं का ज्वार उमड़ रहा है।

हम सभी के श्रद्धेय अटल जी हमारे बीच नहीं रहे। अपने जीवन का प्रत्येक पल उन्होंने राष्ट्र को समर्पित कर दिया था। उनका जाना, एक युग का अंत है।
— Narendra Modi (@narendramodi) August 16, 2018
Third party image reference

अटल बिहारी वाजपेई भारतीय राजनीति के ऐसे व्यक्ति थे जो सबसे महानतम चेहरों में से एक थे एक तरीके से देखा जाए तो BJP को खड़ा करने में उनका सबसे बड़ा हाथ था तीन बार वह देश के प्रधानमंत्री रहे लेकिन उनकी छवि बहुत ही अच्छे व्यक्तियों में थी वह ऐसे नेता थे जिन्होंने विपक्ष में रहकर भी देश का प्रतिनिधित्व किया था यह इतिहास में केवल एक ही बार हुआ है वह राजनीति के साथ-साथ कविता भी लिखा करते थे जो बहुत प्रसिद्ध थे

महान राजनीतिक अटल बिहारी वाजपेई को हमारी तरफ से नमन

The content does not represent the perspective of UC