दुनिया में कई तरह के नेता हैं, कुछ नेता जमीनी स्तर पर मजबूत होते हैं। वही कुछ नेता अपनी बातों से मजबूत स्थिति में आ जाते हैं लेकिन आज हम आपको वर्तमान समय में सबसे ताकतवर हिंदू नेताओं के बारे में बताने जा रहे हैं। जैसा कि आप लोग जानते ही होंगे कि हर इंसान की सोचने का तरीका अलग होता है इसीलिए मैंने इन नेताओं को अपने विचारों से उनकी उपाधि और उनके कार्य के अनुसार उनको अलग अलग पायदान पर रखा है। आगे बढ़ने से पहले अगर आपने हमें फॉलो नहीं किया है तो हमें फॉलो करें।

नरेंद्र दामोदरदास मोदी

Third party image reference

मोदी इस समय सबसे ताकतवर सत्ताधारी हिंदू नेता के रूप में जाने जाते हैं। प्रधानमंत्री बनने से पहले नरेंद्र मोदी गुजराती मुख्यमंत्री थे, लेकिन जब से उन्होंने प्रधानमंत्री का पद हासिल किया है तब से उनकी ताकत कई गुना बढ़ चुकी है। नरेंद्र मोदी भारतीय जनता पार्टी से ताल्लुक रखते हैं और इस समय भारतीय जनता पार्टी भी सबसे ताकतवर पार्टी है। इस समय भारतीय जनता पार्टी की पूर्ण बहुमत वाली सरकार देश के 13 राज्यों में है। वहीं चार राज्यों में भारतीय जनता पार्टी ने गठबंधन करके अपनी सरकार बनाई हुई है।

Third party image reference

नरेंद्र मोदी सबसे ताकतवर हिंदू नेता होने के साथ-साथ सबसे बड़े प्रचारक भी हैं। 2014 के लोकसभा चुनावों के दौरान नरेंद्र मोदी ने बाकी नेताओं की तुलना में सबसे ज्यादा रैलियां की थी और देश में मोदी लहर बनाई थी। अभी भी चाहे कैसा भी चुनाव नरेंद्र मोदी भाजपा का प्रचार करने के लिए हमेशा आगे रहते हैं। मोदी ने अपनी बातों से देश में अपनी पहचान तो बनाई ही है साथ ही साथ विदेशों में भी उनके सम्मान में वृद्धि हुई है।

नारा चंद्रबाबू नायडू

Third party image reference

चंद्रबाबू नायडू दुनिया के दूसरे सबसे ताकतवर हिंदू नेता हैं, इनके नाम एक हैरान कर देने वाला रिकॉर्ड है नारा चंद्रबाबू नायडू को आन्ध्र प्रदेश में सबसे लंबे समय तक मुख्यमंत्री रहने का कीर्तिमान हासिल है। इस समय चंद्रबाबू नायडू आन्ध्र प्रदेश विधान सभा में सदन के सबसे मजबूत नेता हैं। एक समय इनकी हत्या की साजिश भी रची गई थी जो नाकाम हो गई थी। इनको तेज और बेहतर बुद्धि वाला नेता भी माना जाता है।

अरविंद केजरीवाल

Third party image reference

सबसे ताकतवर नेताओं की लिस्ट में अरविंद केजरीवाल का नाम तीसरे नंबर पर आता है क्योंकि अरविंद केजरीवाल इकलौती ऐसे नेता हैं, जिन्होंने भारतीय जनता पार्टी जैसी बेहद मजबूत पार्टी को दिल्ली में बुरी तरह से हराया था। दिल्ली के लोग अरविंद केजरीवाल को बेहद ईमानदार नेता के रूप में जानते हैं। चाहे वह भ्रष्टाचार की लड़ाई हो या कोई और मुद्दा अरविंद केजरीवाल काम करने के लिए हमेशा आगे रहते हैं। जब अरविंद केजरीवाल ने भाजपा को हराकर मुख्यमंत्री पद को हासिल किया था, तब देश में मोदी लहर चल रही थी और मोदी लहर के बीच भारतीय जनता पार्टी को हराना एक बहुत बड़ी बात है।

अमित शाह

Third party image reference

अमित शाह इस समय भारत की सबसे मजबूत पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं और लोग इनको कट्टर हिंदू के रूप में भी जानते हैं। अमित शाह ने बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद पर पहुंचने के लिए बहुत मेहनत की है। अकेले अमित शाह की दम पर भारतीय जनता पार्टी ने कई ऐसे राज्यों के चुनाव जीते हैं जहां भारतीय जनता पार्टी के जीतने की कोई उम्मीद नहीं थी। शाह हिंदू मंदिरों में पूजा-अर्चना के लिए समय-समय पर जाते ही रहते हैं।

Third party image reference

राहुल गांधी अपने परिवार की चौथी पीढ़ी के सदस्य हैं, हाल ही में राहुल गांधी को भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस का अध्यक्ष पद मिला है। इस समय 48 वर्ष के राहुल गांधी भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की कमान अपने हाथ में लिए हुए हैं। राहुल गांधी का राजनीतिक जीवन अभी ज्यादा लंबा नहीं है इसलिए इनको राजनीति समझने में कुछ समय जरूर लगेगा, लेकिन समय के साथ हो सकता है कि राहुल गांधी भारत के एक बहुत बड़े नेता के रूप में सामने आए। फिलहाल राहुल गांधी के निर्देश अनुसार कांग्रेस पार्टी के सारे काम होते हैं।

मुझे उम्मीद है कि आपको यह जानकारी पसंद आई होगी इसीलिए आपसे निवेदन है कि इस जानकारी को सभी के साथ शेयर करें और हमें फॉलो भी करें।

The content does not represent the perspective of UC